उन्नाव कांड: श्मशान घाट पर क्रोधित पीड़िता के चाचा, बोले की सेंगर मेरा पूरा परिवार खा गया

उन्नाव कांड: श्मशान घाट पर क्रोधित पीड़िता के चाचा, बोले की सेंगर मेरा पूरा परिवार खा गया

- in Uncategorized
225
0

उन्नाव कांड: श्मशान घाट पर बिफर पड़े पीड़िता के चाचा, बोले- ‘सेंगर मेरा पूरा परिवार खा गया’
पीड़िता के चाचा के ​चिता में आग लगाते ही पुलिस ने कोर्ट आदेश का हवाला देते हुए चाचा को वापस ले जाने का दबाव बनाया। बिफरे पीड़िता के चाचा ने सभी क्रियाक्रम पूरे करने के बाद ही जाने की बात कही
पीड़िता की चाची की निकाली गई अंतिम यात्रा

उन्नाव रेपकांड पीड़िता की चाची का अंतिम संस्कार गुरुवार को शुक्लागंज के पक्के घाट पर किया गया। रायबरेली जेल से शुक्लागंज पहुचे पीड़िता के चाचा ने पत्नी की चिता को मुखाग्नि दी। पीड़िता के चाचा की आवाज सन्नाटे को चीर रही थी, जिसमें वह बार-बार कह रहे थे, ‘सेंगर मेरा पूरा परिवार खा गया।’ बुधवार को पीड़िता के गांव में एक अजीब सा सन्नाटा बिखरा हुआ था। अचानक पुलिस की दस गाड़ियों की आवाज पूरे गांव में गूंज उठी। इस फ्लीट में पीड़िता की चाची का शव लाया गया था। साथ में थे पीड़िता के चाचा जिन्हें दाह संस्कार की क्रियाओं के लिए लाया गया था। देखते ही देखते दर्जनों लोगों की भीड़ यहां जमा हो गई।

पीड़िता के चाचा ने जैसे ही चिता में आग लगाई, पुलिस ने कोर्ट आदेश का हवाला देते हुए उन्हें वापस ले जाने का दबाव बनाया। बिफरे पीड़िता के चाचा ने सभी क्रियाक्रम पूरे करने के बाद ही जाने की बात कही। इस पर जिला प्रशासन ने इसकी अनुमति दे दी। दोपहर ढाई बजे घाट पर ही स्नान करने के बाद पुलिस पीड़िता के चाचा को कड़ी सुरक्षा में वापस रायबरेली जेल ले गई। घाट से जाते समय मीडिया ने पीड़िता के चाचा से बात करने का प्रयास किया, जिसे प्रशासन ने मना कर दिया। पीड़िता के चाचा बस इतना ही बोल सके कि विधायक कुलदीप सेंगर ने मेरा परिवार बर्बाद कर दिया।

You may also like

चीन को मोदी की दो टूक- बाहरी दबाव में नहीं झुकेगा भारत, देश के लिए जो जरूरी, वो करेंगे

लद्दाख में चीनी सैनिकों के साथ झड़प के